Top 70+ Mausam Shayari in Hindi | खुबसूरत मौसम शायरी

Mausam Shayari in Hindi

मौसम शायरी की मधुर भावनाओं में खो जाने का मजा ही कुछ और है। यहाँ आपके लिए हम लेकर आए हैं Mausam Shayari in Hindi का एक अनूठा संग्रह। मौसम की हर रूपरेखा और मौसम के हर मोड़ पर जो भावनाएँ उभरती हैं, उन्हें शब्दों में पिरोकर हम आपके सामने रखेंगे। यहाँ मौसम के हर रंग, हर मिजाज की शायरी मिलेगी। 

तो दोस्तों, इस खोज में आइए, मिलें हमारी Mausam Shayari in Hindi से, और लें एक नया सफर, एक नया अनुभव। आइए, एक साथ चलें, मौसम की ये खूबसूरत दुनिया में, और जुड़ें हमारे संग इन भावनाओं के सुरमई साथ। तो आइए, जुड़ें हमारे साथ, और मिलकर जीतें मौसम के इस खास खेल में।

Mausam Shayari in Hindi

mausam shayari in hindi

मुझे मौसम का नही,
तेरे बदल जाने का डर है !

Mujhe mausam ka nahin,
Tere badal jaane ka dar hai!

भीगना मुझे भी पसंद है,
अगर बारिश का कोई मौसम हो !

Bheegna mujhe bhi pasand hai,
Agar baarish ka koi mausam ho!

mausam shayari in hindi Image

दिसंबर में मौसम भी कति प्यारा होता है,
होता ठंडा है मगर,
फिर भी सबका दुलारा होता है !

Disambar mein mausam bhi kitni pyaara hota hai,
Hota thanda hai magar,
Phir bhi sabka dulaara hota hai!

बंसत ने तड़पाया,
ग्रीष्म ने जलाया,
वर्षा ने रुलाया,
आशिकों को मौसम ने बहुत सताया !

Bansat ne tadpaaya,
Grishm ne jalaaya,
Varsha ne rulaaya,
Aashikon ko mausam ne bahut sataaya!

mausam shayari in hindi status

दिल को किसी की फरमाइश नही हुई,
फिर उसके बाद ऐसी बारिश नही हुई !

Dil ko kisi ki farmaish nahi hui,
Phir uske baad aisi baarish nahi hui!

किसने कहा इश्क़ बेवफा होता है,
किसने कहा इश्क़ सजा देता है,
किसी के इश्क़ में पूरी तरह डूब कर देखो,
उसकी यादों का मौसम भी मजा देता है !

Kisne kaha ishq bewafa hota hai,
Kisne kaha ishq saza deta hai,
Kisi ke ishq mein poori tarah doob kar dekho,
Uski yaadon ka mausam bhi maza deta hai!

Mausam Shayari in Hindi Font

mausam shayari in hindi font

मैनें देखा ही नहीं कोई मौसम,
मैनें चाहा है तुम्हें चाय की तरह !

Maine dekhā hī nahī koi mausam,
Maine chāhā hai tumhe chāy kī tarah!

अपने किरदार को मौसम से बचाए रखना,
लौट कर फूलों में वापस नहीं आती खुशबू !

Apne kirdār ko mausam se bachāe rakhnā,
Laut kar phūlo me vāpas nahī ātī ḵhushbū!

mausam shayari in hindi font status

समय पे बदला न मैं,
मौसम सा पलटा न मैं
जो था वहीं रहा,
तभी तो पछताया भी मैं !

Samay pe badlā na main,
Mausam sā palṭā na main
Jo thā vahī rahā,
Tabhī to pachhtāyā bhī main!

इश्क़ की शुरूआत हो गई,
बरसात से पहले,
गीली मेरी आँखे हो गई !

Ishq kī shurūʿāt ho gaī,
Barsāt se pahle,
Gīlī merī ānkhe ho gaī!

Shayari on Mausam in Hindi

shayari on mausam in hindi

तुम्हारे शहर का मौसम बड़ा सुहाना लगे,
मैं एक शाम चुरा लूँ अगर बुरा न लगे !

Tumhāre shahar kā mausam baḍā suhānā lage,
Main ek shām churā lūn agar burā na lage!

सर्दी में दिन सर्द मिला हर मौसम बेदर्द मिला !

Sardī me din sard milā har mausam bedard milā!

shayari on mausam in hindi Image

ऐ मौसम मुझे वहा ले चल,
जहा उसके और मेरे बीच कोई दूरी ना रहे !

Ai mausam mujhe vahā le chal,
Jahā uske aur mere bīch koī dūrī na rahe!

मूड हो जैसा वैसा मंजर होता है,
मौसम तो इंसान के अंदर होता है !

Mood ho jaisa vaisa manjar hota hai,
Mausam to insaan ke andar hota hai!

Mausam Par Shayari in Hindi

mausam par shayari in hindi

तुम्हारे साथ ये मौसम फरिश्तों जैसा है,
तुम्हारे बाद ये मौसम बहुत सताएगा !

Tumhaare saath ye mausam farishton jaisa hai,
Tumhaare baad ye mausam bahut sataayega!

बाहर बारिश की बूँदें बरस रही हैं,
अंदर तेरे लिए आँखें तरस रही हैं !

Baahar baarish ki boondein baras rahi hain,
Andar tere liye aankhein taras rahi hain!

आ देख मेरी आँखों के ये भीगे हुए मौसम,
ये किसने कह दिया कि तुम्हें भूल गये हम !

Aa dekh meri aankhon ke ye bhige hue mausam,
Ye kisne kaha ki tumhein bhool gaye hum!

जान ये मौसम तो कुछ लम्हों में बदल जाएगा,
वादा करो तुम नही बदलोगे !

Jaan ye mausam to kuch lamhon mein badal jaayega,
Vaada karo tum nahin badloge!

Barish Mausam Shayari in Hindi

barish mausam shayari in hindi

जब तुम यूँ मुस्कुराते हुए आते हो,
तो संग मौसम बाहर का लाते हो !

Jab tum yun muskurāte hue āte ho,
To sang mausam bāhar kā lāte ho!

आज बारिश मे तेरे संग नहाना है,
सपना ये मेरा कितना पुराना है !

Āj bārish me tere sang nahānā hai,
Sapnā ye mera kitnā purānā hai!

कोई रंग नही होता बारिश मे,
फिर भी फिजा को रंगीन बना देता है !

Koi rang nahī hotā bārish me,
Phir bhī fizā ko rangīn banā detā hai!

रुका हुआ है अजब धुप छाँव का मौसम,
गुजर रहा है कोई दिल से बादलों की तरह !

Rukā huā hai ajab dhoop chhāv kā mausam,
Gujar rahā hai koi dil se bādalo ki tarah!

Suhana Mausam Shayari in Hindi

suhana mausam shayari in hindi

मौसम बाहर का आए तो दिल दुखता है,
काश वो समंझ पाते इस दूरी के एहसास को !

Mausam baahar ka aaye to dil dukhta hai,
Kaash vo samajh paate is doori ke ehsaas ko!

क्या रोग दे गई है ये नए मौसम की बारिश,
मुझे याद आ रहे हैं, मुझे भूल जाने वाले !

Kya rog de gayi hai ye naye mausam ki baarish,
Mujhe yaad aa rahe hain, mujhe bhool jaane waale!

काश वो आए और कहे,
हम मौसम की तरह दीवाने है तेरे !

Kaash vo aaye aur kahe,
Hum mausam ki tarah deewane hain tere!

टूटे दिल से मत पूछों कौन-सा मौसम अच्छा लगता है,
जब वो साथ होता है तो हर मौसम अच्छा लगता है !

Toote dil se mat pucho kaun-sa mausam achha lagta hai,
Jab vo saath hota hai to har mausam achha lagta hai!

Romantic Mausam Shayari in Hindi

romantic mausam shayari in hindi

वक्त के साथ चल दो,
मौसम के रंग में खुद को ठाल दो !

Vakt ke sāth chal do,
Mausam ke rang me khud ko ṭhāl do!

बरसती बारिशों से बस इतना ही कहना है,
के इस तरह का मौसम मेरे अंदर भी रहता है !

Barsatī bārisho se bas itnā hī kahna hai,
Ke is tarah kā mausam mere andar bhī rahtā hai!

खुलती जुल्फों ने सिखाई मौसमों को शायरी,
झुकती आँखों ने बताया मयकशी क्या चीज है !

Khultī julfo ne sikhāī mausamo ko shayari,
Jhuktī ānkho ne batāyā mayakshī kyā chīz hai!

बस एक तेरे संग भीगे हम,
मुझे उस बारिश की तलाश है !

Bas ek tere sang bhīge hum,
Mujhe us bārish kī talāsh hai!

खुबसूरत मौसम शायरी

खुबसूरत मौसम शायरी

दिलो को मिलाने का मौसम है
दूरीयाँ मिटाने का मौसम है होली का त्यौहार ही !

Dilon ko milaane ka mausam hai,
Dooriyaan mitaane ka mausam hai Holi ka tyohaar hi!

इस बारिश में ऐसा काम कर जायेंगे,
अपना सबकुछ मौसम के नाम कर जायेंगे !

Is baarish mein aisa kaam kar jayenge,
Apna sabkuch mausam ke naam kar jayenge!

पतझड़ के मौसम में दिल को सुकून बहुत मिलता है,
शाख से टूटे हर पत्ते !

Patjhad ke mausam mein dil ko sukoon bahut milta hai,
Shaakh se toote har patte!

जब प्यार किसी से ज्यादा हो जाए
तो दिल मछली महबूब पानी बन जाता है !

Jab pyaar kisi se zyada ho jaaye
To dil machhli mahboob paani ban jaata hai!

जब आसमान पर घाटा काली नजर आती है,
तो पेड़ो के पत्तो पर हरियाली नजर आती है !

Jab aasmaan par ghaṭaa kaali nazar aati hai,
To pedon ke patte par hariyali nazar aati hai!

जैसा कि आपने ऊपर देखा, हमने मौसम पर बेहद खूबसूरत शायरी पोस्ट की है। अगर आपको यह Mausam Shayari in Hindi पसंद आई हो, तो कृपया इस पोस्ट को अपने दोस्तों और सोशल मीडिया पर शेयर करें। आपका साथ देने का धन्यवाद! और हाँ, हमारी वेबसाइट पर आते रहें, जहाँ आपको और भी अनेक रोमांटिक और भावनात्मक शायरी मिलेगी।

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *